Wednesday, 12 May 2021

रायपुर। आयुष्मान भारत योजना पर छत्तीसगढ़ में महाभारत चार महीने से जारी है। निजी अस्पताल इलाज नहीं कर रहे हैं तो योजना की संचालन एजेंसी (स्वास्थ्य विभाग के अंतर्गत) स्टेट नोडल एजेंसी (एसएनए) नोटिस पर नोटिस देकर दबाव बना रही है। 24 सितंबर को ई-मेल के जरिए प्रदेश के निजी अस्पताल संचालकों को नोटिस दिया गया कि वे अगर काम पर वापस नहीं लौटते हैं तो अनुबंध खत्म कर दिया जाएगा।
अब इन्हीं सब विवादों को खत्म करने के लिए स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने अपनी टीम के साथ थाईलैंड के लिए उड़ान भर ली है। अब थाईलैंड से यूनिवर्सल हेल्थ स्कीम का फॉर्मूला निकलेगा। सूत्रों की मानें तो आयुष्मान योजना छत्तीसगढ़ में ज्यादा दिन की मेहमान नहीं है।
थाईलैंड की हेल्थ स्कीम को दुनिया की सबसे अच्छी स्वास्थ्य योजनाओं में माना जाता है। जानकारी के मुताबिक थाईलैंड में दो दिवसीय अंतरराष्ट्रीय कांफ्रेंस भी है, जिसमें ये प्रतिनिधिमंडल शामिल होगा। इसके बाद हेल्थ स्कीम समझी जाएगी। सचिव निहारिका बारिक, मुख्यमंत्री के सामने इसका प्रजेंटेशन देंगे। सत्ता में आने के बाद कांग्रेस सरकार के किसी मंत्री का यह पहला विदेश दौरा है।
दोनों सरकार के विरोध में आइएमए- 2009 से प्रदेश में राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना (आरएसबीवाइ), इसके बाद मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना (एमएसबीवाइ) संचालित हो रही हैं, लेकिन विवाद लगातार बना रहा। योजना कभी बंद नहीं हुई। मगर आयुष्मान आने के बाद निजी अस्पतालों ने काम ठप कर दिया।
आइएमए का प्रतिनिधिमंडल स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव से मिला, पर कोई ठोस आश्वासन नहीं मिला था। इसके बाद नाराजगी और बढ़ गई। जबकि माना जा रहा था कि आइएमए में अधिकांश डॉक्टर कांग्रेस के समर्थक हैं, इससे विवाद खत्म हो जाएगा। मगर ऐसा हुआ नहीं।
ये हुए रवाना
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, सचिव निहारिका बारिक, स्वास्थ्य आयुक्त आर. प्रसन्ना, स्टेट नोडल एजेंसी (एसएनए) के नोड्ल अधिकारी विजेंद्र कटरे।
आयुष्मान पर विवाद क्यों, जानें-
16 सितंबर को पीएम नरेंद्र मोदी ने आयुष्मान भारत योजना को देशभर में लांच किया था, लेकिन इसी दिन से छत्तीसगढ़ आइएमए विरोध में उतर आया था। तब से आज तक विरोध जारी है। इसकी कई वजहें बनी हुई हैं।
सबसे बड़ी वजह प्रदेश के निजी अस्पताल संचालकों द्वारा पूर्व में किए गए उपचार की राशि का बीमा कंपनी द्वारा भुगतान न किया जाना, जो 60 करोड़ रुपये है। दूसरी वजह पुराने क्लेम को बिना किसी ठोस कारण के रिजेक्ट कर देना। तीसरी वजह है आयुष्मान भारत के सॉफ्टवेयर में गड़बड़ी। इसे लेकर आइएमए ने पीएम मोदी तक को शिकायत की है और कोर्ट जाने के लिए तमाम दस्तावेजों को जुटाया जा रहा है।

रायपुर । स्वामी विवेकानंद विमान तल के लिए साल 2018 काफी लकी साबित हुआ। 2017 की तुलना में साल 2018 में स्वामी विवेकानंद विमानतल पर यात्रियों की संख्या में पौने दो लाख का इजाफा हु्‌आ है। इसके साथ ही उड़ानों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। जानकारी के अनुसार साल 2018 में अप्रैल से जून तक तीन माह में हवाई यात्रियों की संख्या में 58 फीसद ग्रोथ दर्ज की है, जबकि साल 2017 में अप्रैल से जून तक 323429 लाख यात्रियों ने उड़ान भरी थी, जो बीते साल अप्रैल से जून में बढ़कर 510560 लाख हो गई।
इस प्रकार तीन महीनों में ही साल 2018 में स्वामी विवेकानंद विमानतल ने नया रिकॉर्ड बनाया है। विमानन अधिकारियों का कहना है कि विमानतल का पूरा उद्देश्य अधिक से अधिक यात्री सुविधाओं को बढ़ाने के साथ ही रनवे का और विस्तार करने तथा टावर बनाने पर है, ताकि जल्द से जल्द रायपुर को अंतरराष्ट्रीय उड़ान भी मिल सके।
बताया जा रहा है कि यात्रियों की संख्या में हुई बढ़ोतरी के साथ ही बीते साल तीन महीनों में विमानों के उड़ान भरने में भी रायपुर विमानतल ने 85 फीसद की ग्रोथ दर्ज की है। साल 2017 में अप्रैल से जून तक 2222 विमानों ने उड़ान भरी थी, लेकिन साल 2018 में इनकी संख्या 4113 हो गई। विमानतल के निदेशक राकेश सहाय ने बताया कि इस प्रकार स्वामी विवेकानंद विमानतल ने यात्रियों की संख्या और उड़ान भरने दोनों में ही रिकॉर्ड बनाया है।
रनवे का और होगा विस्तार
विमानन अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार बीते साल रनवे 2236 मीटर से 865 मीटर से बढ़ाकर 3251 मीटर कर दिया गया है, लेकिन अब इसके और विस्तार की योजना बनाई जा रही है। विमानन अधिकारियों का कहना है कि छोटा रनवे होने की वजह से विशेषकर गर्मियों में फ्लाइटों को रफ्तार पकड़ने में थोड़ा ज्यादा जोर लगाना पड़ता था।
चौबीस घंटे खुला रहेगा विमानतल-स्वामी विवेकानंद विमानतल को चुनावी सीजन में मांग के अनुसार 24 घंटे विमानों के संचालन की तैयारी की गई थी। विमानन अधिकारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में इसे आम यात्रियों की सुविधा को देखते हुए भी 24 घंटे संचालन किया जा सकता है। बताया जा रहा है कि अभी एक प्रस्ताव भी बनाया जा रहा है।
मार्च एंडिंग में आ रही विस्तारा
अगले दो महीनों में राजधानी के हवाई यात्रियों को नई सौगात मिलने वाली है। इसमें विस्तारा एयरलाइंस की दिल्ली फ्लाइट 31 मार्च से तथा इंडिगो एयरलाइंस की अहमदाबाद फ्लाइट एक अप्रैल से शुरू हो रही है। विमानन अधिकारियों से मिली जानकारी के अनुसार विस्तारा एयरलाइंस की फ्लाइट का इंतजार लंबे अर्से से किया जा रहा था। इस फ्लाइट के शुरू होने से यात्रियों को सस्ते हवाई तो मिलेंगे ही साथ ही समय-समय पर विमानन कंपनियों द्वारा की जाने वाली मनमानी से भी थोड़ी राहत मिलेगी।
विस्तारा की शुरू होने वाली इस फ्लाइट से सुबह और शाम दोनों के लिए काफी अच्छा होगा। फ्लाइट क्रमांक यूके 797 सुबह 8.20 बजे रायपुर विमानतल पहुंचेगी और 8.55 बजे दिल्ली के लिए छूटेगी। इसी प्रकार देर शाम फ्लाइट क्रमांक यूके 793 रात 8.20 बजे दिल्ली के लिए छूटेगी।
इसी प्रकार एक अप्रैल से इंडिगो की शुरू होने वाली अहमदाबाद फ्लाइट दोपहर 2.45 बजे रायपुर पहुंचेगी और 3.15 बजे अहमदाबाद के लिए छूटेगी। इस प्रकार राजधानी के हवाई यात्रियों को इन दो क्षेत्रों के लिए नई सौगातें मिलेंगी। इनका काफी समय से इंतजार भी किया जा रहा था।

रायपुर  |   प्रदेश प्रभारी अशोक सिद्धार्थ और लालजी वर्मा के साथ गठबंधन को लेकर अजीत जोगी की बैठक हुई है. बैठक में आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर रणनीति बनी है  |
बैठक में 11 सीटों के लिए पूरी रणनीति तैयार कर ली गई है. अशोक सिद्धार्थ ने बताया कि जल्द ही सीटों का बंटवारा हो जाएगा. उन्होंने आगे कहा कि बैठक की सारी गतिविधियों की जानकारी मायावती को दी जाएगी  |

रायपुर  |  कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज किसान आभार सम्मेलन को संबोधित करते हुए एक बड़ा ऐलान किया है. राहुल गांधी ने कहा कि 2019 में चुनाव के बाद केंद्र में कांग्रेस की सरकार बनने पर हर गरीब को मिनिमम इनकम गारंटी दी जाएगी. कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ के सभी मतदाताओं का दिल से धन्यवाद. आप सबने हमारे कंधों पर एक बड़ी जिम्मेदारी दी है. मैं कांग्रेस पार्टी का एक कार्यकर्ता हूँ, मैं पूरे दिल से आप सबका धन्यवाद करता हूँ. आप सबने जो जिम्मेदारी हमें सौंपी है, उसे हम मिलकर पूरा करेंगे  |
जब हम विपक्ष में थे हमने छत्तीसगढ़ के भविष्य के लिए लड़ाई लड़ी. हमने भाजपा सरकार से पूछा कि किसानों का कर्ज माफ किया जाये. मगर सरकार के पास एक ही जवाब होता था कि पैसा नहीं है. सरकार के पास उद्योगपति के लिए पैसा कहाँ से आ जाता था. विजय माल्या, ललित मोदी देश का पैसा लेकर भाग जाता है. इस सरकार के पास अनिल अंबानी के लिए 30 हजार करोड़ रुपए है मगर किसानों के लिए पैसा क्यों नहीं है. बीजेपी के नेता 15 सालों में जो काम नहीं कर पाये कांग्रेस सरकार ने वो काम सिर्फ 24 घंटों में कर दिखाया. कांग्रेस ने 10 दिनों में ऋण माफ़ करने का वादा किया था. मगर हमने ये निर्णय सरकार बनते ही पहले ही दिन निर्णय ले लिया  |
नरेंद्र मोदी ने अनिल अंबानी को फायदा पहुँचाने देश के बेरोजगार युवाओं के साथ धोखा किया है. ऐसा क्या कारण है कि हिंदुस्तान का हर किसान डर-डरकर जीता है. क्या कारण है कि किसानों की हालत लगातार बुरी होती जा रही है. किसान दिनभर काम करे, आधी रोटी खाए और अनिल अंबानी प्राइवेट जहाज में सफ़र करे. हम ऐसा हिंदुस्तान बनने नहीं देंगे. किसानों की जमीन उद्योगपति छीने, हम ये नहीं होने देंगे. टाटा ने जो जमीन खरीदी थी, उसे किसानों को वापस करने का काम भी हमारी सरकार ने कर दिखाया है  |
छत्तीसगढ़ पूरी दुनिया में धान का कटोरा बनेगा. न्यूयार्क के डायनिंग टेबल में भी छत्तीसगढ़ की सब्जी होगी. हमारी सरकार हरित क्रांति पर काम करेगी. मैंने दो हिंदुस्तान की बात कर रहा हूँ. नरेन्द्र मोदी दो हिंदुस्तान बना रहे हैं. एक हिंदुस्तान अनिल अंबानी, मेहुल चौकसी जैसे उद्योगपतियों का. और दूसरा हिंदुस्तान आम लोगों और किसानों का. हम ये नहीं होने देंगे. कांग्रेस ने मन बना लिया है कि 2019 में चुनाव जीतने के बाद हम और बड़े कदम उठाएंगे. हमने निर्णय ले लिया है कि 2019 चुनाव के बाद हर गरीब को मिनिमम इनकम गारंटी देने जा रही है. हम दो हिंदुस्तान नहीं चाहते हैं. उस हिंदुस्तान में कोई भी भूखा नहीं सोयेगा. छत्तीसगढ़ के युवाओं ने, किसानों ने, महिलाओं ने और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मिलकर चुनाव जिताया है. हमारी सरकार में आपके मन की बात चलेगी. आपके लिए हम काम करने आये हैं. आप हमें ऑर्डर दीजिये. हम काम करेंगे. हम यहाँ मन की बात करने नहीं आये हैं. हम यहाँ लंबे-लंबे भाषण देने नहीं आये हैं  |
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने किसान आभार सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी किसानों से मुलाकात करने दिल्ली से रायपुर आये हैं. किसानों का आभार व्यक्त करने आप सबके बीच पहुंचे हुए हैं. उन्होंने आगे कहा कि राहुल गांधी की नेतृत्व में हमने विधानसभा चुनाव लड़ी. छत्तीसगढ़ के किसानों की बदौलत ही तीन चौथाई से जीत मिली. सीएम भूपेश बघेल ने आगे कहा कि कांग्रेस ने जो वादा किया उसे निभाया है. कांग्रेस की सरकार अच्छे दिन आएंगे कहने का धोखा नहीं देती है. कांग्रेस सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने पर काम कर रही है. जो अत्याचार झीरम कांड में हुआ है, उसकी जाँच के लिए हमने एसआईटी गठित की है. केंद्र में भी अब कांग्रेस की सरकार बनाने की जरूरत है  |

Address Info.

Owner / Director - Piyush Sharma

Office - Shyam Nagar, Raipur, Chhattisgarh,

E mail - publicuwatch24@gmail.com

Contact No. : 7223911372

Timeline